Hanuman Pooja Mantra Lyrics [विधि और लाभ] Download Free PDF

Before reciting the Hanuman Pooja Mantra, it is must to know the proper method, rules, materials required for pooja, and benefits of the Hanuman Pooja. Here, in this post, we have given all the information related to the Hanuman Pooja for free. You can also download the PDF file containing the same information written in this post.

हनुमान जी भगवान शिव के 11वां रूद्र अवतार माने जाते है और भगवान श्री राम के परम भक्त हैं। पवन पुत्र हनुमान जी का नियमित रूप से पूजा करने वाले भक्त कभी भी कष्ट में नहीं रहते और उन्हें हमेशा सुख समृद्धि प्राप्त होती है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हनुमान जी की पूजा करने वाले भक्तों को महाराज शनिदेव कभी भी कष्ट नहीं पहुंचाते हैं। महाबली की साधना करने से हमारा मन सरल और शुद्ध होता है और हमारे मन से अहंकार, क्लेश का नाश होता है।

Hanuman Pooja Mantra

तो आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि हनुमान जी की पूजा कैसे की जाती है और इसकी विधि क्या है एवं इससे जुड़े लाभ और नियमों के बारे में बताएंगे ताकि आपको सुख और समृद्धि की प्राप्ति हो सके।


Hanuman Pooja Mantra [हनुमान पूजा मंत्र]

अपने जीवन में आने वाले तमाम संकटों और दुखों को दूर करने के लिए मंगलवार के दिन हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए निम्नलिखित मंत्रों का जाप करना चाहिए।

1] ओम हनुमते नमः

अगर आप इस मंत्र का जाप नियमित रूप से करते है, तो आपके अंदर सकारात्मक उर्जा का प्रवाह होता है और आपके अंदर छिपे भय का नाश करता है। क्योंकि इसे भयनाशक मंत्र भी कहते हैं।

2] नासे रोग हरैं सब पीरा।
जो सुमिरै हनुमत बल बीरा।।

हनुमान चालीसा के इस चौपाई को रोग नाशक मंत्र कहा जाता है। यदि आप इस मंत्र का 108 बार जाप करते है, तो गंभीर से गंभीर बीमारी ठीक हो जाती है।

3] श्री हनुमते नमः।

हाथ में रुद्राक्ष माला लेकर इस मंत्र का जाप किया जाता है। इस मंत्र का जाप करने से शोक एवं दुख दूर होते है। अपने दुख एवं कष्टों को दूर करने के लिए रुद्राक्ष माला पर 108 बार इस मंत्र का जाप करें।

4] महाबलाय वीराय चिरंजिवीन उद्दते,
हारिणे वज्र देहाय चोलंग्घितमहाव्यये।

इस मंत्र का जाप हनुमानजी के भक्त अपनी मनोकामना को पूर्ण करने के लिए करते है। हनुमान जी के इस मंत्र का जाप करने से आपकी सभी मनोकामना पूर्ण होती है।


हनुमान पूजन सामग्री

सभी संकटों, दुख एवं बुरे समय से बचने के लिए इस कलयुग में एकमात्र उपाय है और वो है हनुमान जी की पूजा करना। हनुमान जी की पूजा यदि आप किसी मंदिर में जाकर करते है, तो अति उत्तम माना जाता है। लेकिन आप इसे घर पर भी कर सकते है। लेकिन पूजा शुरू करने से पहले पूजन सामग्री की व्यवस्था की जानी चाहिए, जिसका नाम निम्नलिखित इस प्रकार हैं।

  • लाल फूल
  • कलश
  • जनेऊ
  • लाल फूल की माला
  • चमेली का तेल
  • लाल लंगोटा या लाल कपड़ा
  • सरसों का तेल
  • घी
  • कपूर
  • दीप
  • इत्र
  • पंचामृत
  • नारियल
  • लाल चंदन
  • पीला फूल
  • धूप अगरबत्ती

हनुमान जी को चढ़ाने (नैवेद्य) प्रसाद-

  • मोतीचूर के लड्डू
  • लाल पेड़ा
  • केला
  • चना और गुड़
  • लड्डू( बेसन के)
  • चना और गुड़
  • पान

हनुमान पूजन विधि [Hanuman Pooja Procedure]

मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करना उत्तम माना जाता है। धर्म शास्त्रों के अनुसार यदि आप मंगलवार के दिन व्रत रखते है और हनुमान जी की पूजा करते है, तो कुंडली में मंगल ग्रह का प्रभाव कम हो जाता है एवं शनि देव महाराज प्रसन्न होते हैं।

हनुमान जी की पूजा करने के लिए सर्वप्रथम सुबह उठकर स्नान करें एवं लाल वस्त्र धारण कर ले। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि आपका वस्त्र कहीं से भी सिला हुआ ना हो। उसके बाद यदि आप घर में पूजा करते है, तो ईशानकोण को साफ करके एक चौकी पर लाल वस्त्र बिछाए फिर उसपर हनुमान जी की मूर्ति को स्थापित कर दें। इसके उपरांत घी का दीपक जलाकर ऊपर बताए गए मंत्रों का जाप करें और लाल सिंदूर, लाल फूल, गुड़, लड्डू, केला, नारियल, लाल पेड़ा, इत्यादि प्रसाद के रूप में चढ़ाए एवं धूप, अगरबत्ती जलाकर सभी मंत्रों का पाठ करें।


हनुमान पूजा के नियम [Hanuma Pooja Rules]

1] हनुमान जी की पूजा करने से पहले शुद्धता एवं पवित्रता का विशेष ख्याल रखें। हनुमान जी की पूजा खासकर शुभ मुहूर्त यानी सुबह या श्याम को करें।

2] हनुमान पूजा में लाल रंग के फूलों का प्रयोग करें। यहां तक की जो आप दीपक प्रज्वलित करते है, उसकी बाती के धागे का रंग लाल होना चाहिए।

3] हनुमान जी की पूजा के बाद यदि आप सुंदरकांड या हनुमान चालीसा का पाठ करते है, तो इसे जुड़े नियमों को अवश्य जान ले।

4] पूजा करने से एक दिन पहले ही ब्रह्मचर्य का पालन करें और अपने मन में कामुक विचार ना रखें एवं मांस, मदिरा का सेवन बिल्कुल ना करें।

5] पूजा के दौरान कोई भी बाधा उत्पन्न ना हो, इस बात का विशेष ध्यान रखें और हनुमान पूजा में इनको अर्पित किया गया प्रसाद शुद्ध घी से बने हो।


Hanuman Pooja Benefits [हनुमान पूजा के लाभ]

1] हनुमान जी को दुःख हरता कहा गया है। इसलिए इनका नियमित रूप से पूजा करने से आपके सारे दुख एवं कष्ट दूर होते हैं।

2] यदि किसी भक्त पर हनुमान जी प्रसन्न हो जाएं तो कोई भी बुरी शक्ति उन्हें नुकसान नहीं पहुंचा सकती।

3] हनुमान जी के भक्तों को कभी भी धन वैभव की कमी नहीं होती है और उन्हें कोई बीमारी, या किसी प्रकार का कष्ट नहीं होता है।

4] हनुमान जी की पूजा करने से मंगल ग्रह के दोषो से मुक्ति मिलती है और शनि महाराज की साढ़ेसाती से मुक्ति मिलती हैं।


Hanuman Pooja Mantra PDF

Here, we have made available a free PDF file containing the complete information about the Hanuman Mantra. You need to click the button below and download it.

Leave a Comment